Category Archives: Bhumihar

याचक एवं अयाचक ब्राह्मण

आर्यों की श्रुति, स्मृति, पुरणादि, संस्कृत ग्रन्थों के अनुसार सृष्टि के आरंभ में सर्व प्रथम ब्रह्मा उत्पन्न हुए। उनके द्वारा जो प्रथम प्रजा उत्पन्न हुई वह ब्राह्मण कही गई। इसके पश्चात जैसे जैसे मनुष्यों की आबादी बढ़ती गई, उनके गुण ओर कर्म के अनुसार ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य, और शूद्र ये चार जाती भेद, या वर्ण

Read More

Kamlendra Priyadarshi

भूमिहार ब्राह्मण शब्द के प्रचलित होने की कथा

भूमिहार ब्राह्मणों के भूमिपति होने के बहुत से कारक है। भगवान परशुराम ने क्षत्रिय का विनाश कर उनकी भूमि कश्यप आदि ब्राह्मणों को दी थी, यह सर्वविदित है। कुछ ब्राह्मणों को लोकहितकारी सेवाओं के कारण राजवंशो से भूमि अग्रहार के रूप में प्राप्त हुई। प्राचीन काल में कुछ राजवंश ब्राह्मणों के थे। जैसे- शुंग, कण्व,

Read More

Bhumihars in various states

In various states of India Community Bhumihar is also know as :: 1. बिहार एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश में- भूमिहार 2. पंजाब एवं हरियाणा में – मोहयाल 3. जम्मू कश्मीर में – पंडित, सप्रू, कौल, नेहरू, दार, काटजू 4. मध्यप्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश ;आगरा के निकटद्ध-गालव 5. उत्तर प्रदेश में – त्यागी एवं भूमिहार। 6.

Read More

bhumihar

भूमिहार या बाभन (अयाचक ब्राह्मण ) : bhumihar the royal Community

    Know about Bhumihar Community , the royal Community   ::                           भूमिहार या बाभन (अयाचक ब्राह्मण ) एक ऐसी सवर्ण जाति है जो अपने शौर्य, पराक्रम एवं बुद्धिमत्ता के लिये जानी जाती है। बिहार, पश्चिचमी उत्तर प्रदेश एवं झारखण्ड में निवास करने वाले भूमिहार जाति अर्थात अयाचक ब्रहामणों को त्यागी नाम की उप-जाति से जाना

Read More